गोबर राखी | गाय के गोबर से महिलाएं बनाती हैं अनोखी राखियां, अमेरिका से भी ऑर्डर

1 min


Advertisements

गुजरात समाचार: भारत में रक्षा बंधन का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है, जिसके लिए बाजार पहले से ही खिले हुए हैं और दुकानों को तरह-तरह की राखियों से सजाया जाता है. रक्षाबंधन के दिन, हिंदू धर्म में हर लड़की अपने भाई की कलाई पर राखी बांधती है और उससे सुरक्षा का वादा करती है।

ऐसे में हर बहन चाहती है कि उसके भाई की कलाई पर बंधी राखी सबसे अलग और अनोखी हो, इसलिए बाजार में उसके सामने कई तरह की राखियां आ जाती हैं. लेकिन आज हम आपको एक बेहद अनोखी राखी के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे गोबर से तैयार किया जाता है।

गाय के गोबर से बनी अनोखी राखी। गाय के गोबर की राखी

गुजरात के जूनागढ़ जिले में कुछ महिलाएं गाय के गोबर से घर पर ही खूबसूरत राखी बनाती हैं, उनके द्वारा बनाई गई राखियों की मांग विदेशों में भी तेजी से बढ़ रही है। गाय के गोबर से बनी ये राखियां न सिर्फ खूबसूरत दिखती हैं बल्कि सामान्य राखियों से ज्यादा लंबी भी रहती हैं। यह भी पढ़ें- भारतीय क्रांतिकारियों-किसानों को मिला देश का झंडा

कोरोना महामारी से पहले जूनागढ़ के कोयली गांव में रहने वाली महिलाओं का एक समूह करीब 500 राखियां बनाता था, लेकिन कोरोना के बाद इन गोबर की राखियों की मांग तेजी से बढ़ने लगी है. इस साल इन महिलाओं ने करीब 20 हजार राखियां बनाई हैं और ज्यादातर ऑर्डर विदेश से आए हैं।

गोबर की राखी बनाने के लिए गोमूत्र और हल्दी के मिश्रण का उपयोग किया जाता है, जिससे राखी की सुगंध और गुणवत्ता में सुधार होता है। इसके अलावा गाय के गोबर से बनी राखी पर्यावरण के लिए काफी अच्छी होती है, वहीं इसे पहनने वाले का स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है।

राखी भी प्रधानमंत्री को बिक चुकी है

गाय के गोबर से बनी ये राखियां बेहतरीन डिजाइनों से बनाई गई हैं, जो देखने में बेहद खूबसूरत लगती हैं। गुजरात के गांधीनगर के एक स्कूल से गोबर की राखियों का खास ऑर्डर दिया गया है, वहीं इन महिलाओं ने गोबर से बनी राखियां भी प्रधानमंत्री मोदी को भेजी हैं.

इन महिलाओं को राज्य सरकार का सहयोग मिल रहा है, जिसके तहत उन्होंने एक ग्रुप बनाया है. महिलाओं का यह समूह गाय के गोबर से बनी राखी और अन्य सामान भी बनाता और प्रदर्शित करता है, जिसकी कीमत 10 रुपये से 30 रुपये है।

अमेरिका से मिला 7 हजार राखियों का ऑर्डर

इस प्रदर्शनी में अमेरिका के कुछ पर्यटकों ने गोबर से बनी राखी देखी, जो उन्हें बेहद पसंद आई। इसके बाद अमेरिका के एक एनजीओ से 7 हजार राखियों का ऑर्डर दिया गया है, जिसकी कीमत करीब 893 डॉलर है।

आपको बता दें कि गाय के गोबर से बनी इन राखियों का काम करीब तीन महीने तक चलता है, जिसमें हर महिला को साढ़े सात हजार रुपए महीने की तनख्वाह मिलती है। इन महिलाओं को उम्मीद है कि अगर गाय के गोबर से बनी राखी की मांग बढ़ती रही तो उन्हें साल भर काम मिलेगा। यह भी पढ़ें- अंबानी परिवार का अजीब शौक, नीता अंबानी सबसे आगे


Like it? Share with your friends!