IAS अंजू शर्मा स्कूल में हुई फेल, जानिए कैसे बनी ऑफिसर

1 min


Advertisements

UPSC की परीक्षा भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है। इस परीक्षा को पास करने के लिए बहुत मेहनत और धैर्य की आवश्यकता होती है। ऐसे में आज हम आपको IAS अंजू शर्मा की प्रेरक कहानी बताने जा रहे हैं। दरअसल, वह स्कूल में फेल हो गई थी। इसके बावजूद उन्होंने कड़ी मेहनत और लगन से यूपीएससी की परीक्षा पास की। इनके बारे में जानकर आपको लगेगा कि आप कोई प्रेरणादायक कहानी पढ़ रहे हैं। तो किसका इंतजार कर रहे हैं आइए जानते हैं आईएएस अंजू शर्मा के बारे में विस्तार से।

स्कूल में फेल होने के बाद भी बना आईएएस

कुछ बच्चों को परीक्षा में कम अंक मिलते हैं और कुछ बच्चे फेल भी हो जाते हैं। ऐसा ही कुछ हुआ आईएएस अंजू शर्मा के साथ। एक इंटरव्यू के दौरान अंजू शर्मा ने खुलासा किया कि वह 10वीं से पहले की बोर्ड परीक्षा में फेल हो गई थीं। इतना ही नहीं इसके बाद उन्हें 12वीं में एक बार फिर इस स्थिति का सामना करना पड़ा। वह 12वीं के अर्थशास्त्र के पेपर में भी फेल हो गई थी। हालांकि बाद में उन्होंने परीक्षा पास कर ली। इस घटना से सीख लेते हुए आईएएस अंजू शर्मा ने कड़ी मेहनत की और पहले ही प्रयास में परीक्षा पास कर ली। इस दौरान उनकी मां ने उनका साथ दिया और उनके साथ खड़ी रहीं।

22 साल में यूपीएससी पास की

आईएएस अंजू शर्मा ने जयपुर से बीएससी और एमबीए किया है। वह कॉलेज के दौरान गोल्ड मेडलिस्ट थीं। इसके बाद उन्होंने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी और पहले ही प्रयास में अपना करियर बना लिया। उन्होंने राजकोट में सहायक कलेक्टर के रूप में अपना करियर शुरू किया। इसके अलावा वे गांधीनगर में कलेक्टर सहित अन्य पदों पर भी काम कर चुके हैं। 22 साल की उम्र में यूपीएससी क्लियर करने के बाद हर छात्र को उनसे प्रेरणा लेनी चाहिए।

किसी ने सही कहा है कि असफलता से सीखकर ही सफलता प्राप्त की जा सकती है। अंजू शर्मा अपनी मेहनत के दम पर आज आईएएस अफसर हैं। उनकी प्रेरक कहानी जानकर आपको कैसा लगा? हमें फेसबुक के कमेंट सेक्शन में बताएं।


Like it? Share with your friends!